गांधी जी के ग्राम स्वराज के सपने को पूरा करने का काम कर रही है छत्तीसगढ़ सरकार: भूपेश बघेल

गांधी जी के ग्राम स्वराज के सपने को पूरा करने का काम कर रही है छत्तीसगढ़ सरकार: भूपेश बघेल

रायगढ़ जिले के डोंगीतराई और पंडरीपानी में रूरल इंडस्ट्रियल पार्क का हुआ शिलान्यास

7 ब्लॉक में बनेंगे 14 ग्रामीण औद्योगिक पार्क
रायपुर, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती के अवसर पर आज मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल अपने निवास कार्यालय से वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से प्रदेश में ग्रामीण उद्यमिता एवं आजीविका संवर्धन के उद्देश्य से महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क (रीपा) गौठानों का शिलान्यास किया। उन्होंने आगे कहा कि गांधी जी ने ग्राम स्वराज का जो सपना देखा था, उसे धरातल पर मूर्त रूप देने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार लगातार काम कर रही है। छत्तीसगढ़ में नरवा, गरुवा, घुरुवा और बाड़ी कार्यक्रम के तहत स्थानीय संसाधानों का संरक्षण एवं संवर्धन के साथ-साथ ग्रामीणों की आजीविका को बेहतर बनाने का काम किया जा रहा है। इसी कड़ी में आज गौठानों में रीपा की स्थापना एक महत्वपूर्ण कदम है। मुख्यमंत्री ने कहा कि रीपा के विकसित होने से स्थानीय जरूरत और बाजार की संभावनाओं के आधार पर अनेक उद्यम स्थापित होंगे और लोगों को रोजगार मिलेगा।  

पार्क का शिलान्यास
आज रायगढ़ जिले के डोंगीतराई और पंडरीपानी के रूरल इंडस्ट्रियल पार्क का शिलान्यास किया गया। पंडरीपानी में शिलान्यास समारोह आयोजित किया गया। जिसमें जिला पंचायत अध्यक्ष श्री निराकार पटेल, कलेक्टर श्रीमती रानू साहू, सीईओ जिला पंचायत श्री अबिनाश मिश्रा उपस्थित रहे। समारोह को संबोधित करते हुए श्री पटेल ने कहा कि रीपा शासन की महत्वपूर्ण योजना है। इससे गांवों का औद्योगिक विकास होगा। ग्रामीण उद्यमिता और आय संवर्धन की दिशा में शासन का महत्वपूर्ण कदम है। गोठानों के माध्यम से महिलाएं आर्थिक रूप से स्वावलंबी होंगी एवं लोगों को रोजगार के अवसर भी मिलेंगे। उन्होंने रूरल इंडस्ट्रियल पार्क के लिए महिलाओं को बधाई देते हुए बेहतर कार्य करने को कहा।  

कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने कहा की जिले के 7 विकासखण्ड के 14 गोठानों को महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क के रुप में चयनित किया गया है। जिसमें महिलाओं के मांग के आधार पर आयमूलक गतिविधियां संचालित की जायेगी। इससे समूह के आय में वृद्धि होगी। कलेक्टर श्रीमती साहू ने बताया कि टीसीएस के द्वारा रोजगार मूलक प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है। जिसके पश्चात प्रशिक्षित युवाओं को रोजगार प्रदान किया जाएगा। वहीं बोतल्दा में पर्यटन की संभावनाओं को देखते हुए पर्यटन क्षेत्र के रूप में विकसित करने की योजना है। जिससे महिलाओं के साथ आसपास के लोगों को रोजगार मिलेगा एवं आजीविका संवर्धन होगा।

इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य श्रीमती अनिका विनोद भारद्वाज, श्रीमती पुनीता दिलीप पटेल, बीडीसी श्रीमती राधा गोपी यादव, पण्डरीपानी सरपंच श्री दिगम्बर प्रसाद राठिया, डोंगीतराई सरपंच श्री मनोज पटेल, श्री लक्ष्मी पटेल, श्री विनोद भारद्वाज, श्री सागर दीवान, श्री घनश्याम पटेल, श्री सुदर्शन पटेल, श्री लक्ष्मी नारायण पटेल, श्री मनोज पटेल, उप संचालक पशुपालन डॉ.आर.एच.पाण्डेय, उप संचालक कृषि श्री हरिश राठौर, एसडीएम रायगढ़ श्री गगन शर्मा उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने हितग्राहियों से की बात
गोठान प्रबंधन समिति के अध्यक्ष श्री कीर्तन पटेल ने मुख्यमंत्री को बताया कि गौठान में मुर्गीपालन, मछली पालन, साग-सब्जी, वर्मी कम्पोस्ट बनाये जा रहे है। वर्मी कम्पोस्ट विक्रय कर समूह को लगभग 1.50 लाख रुपये की आय प्राप्त हुई है। इसी प्रकार अन्य गतिविधियों को भी बेहतर रूप से संचालित करने का प्रयास किया जा रहा है। जिससे समूह को अधिक से अधिक लाभ हो सके। सरस्वती पटेल ने बताया कि गोठान से विभिन्न समूह जुड़े हुए हैं। समूह द्वारा वर्मी कम्पोस्ट का निर्माण, आटा, दाल की यूनिट संचालित की जा रही हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री श्री बघेल को बताया कि गौठान में बड़े पैमाने पर मुर्गीपालन की योजना है ताकि अधिक से अधिक अण्डा उत्पादन कर स्कूलों व आंगनबाड़ियों को सप्लाई की जा सके। उन्होंने आटा व दाल की मिनी प्रोसेसिंग यूनिट की मांग की। मुख्यमंत्री ने महिला समूह की  मांग को जल्द पूरा करने के निर्देश अधिकारियों को दिए।