भाजपा राज में ध्वस्त हुई कानून व्यवस्था - कांग्रेस विधायक 

भाजपा राज में ध्वस्त हुई कानून व्यवस्था - कांग्रेस विधायक 

भाजपा राज में ध्वस्त हुई कानून व्यवस्था - कांग्रेस विधायक 

नागरिक सुरक्षा को लेकर फेल हुई भाजपा सरकार, नहीं रुक रहा आदिवासियों की हत्याओं का सिलसिला

मण्डला - प्रदेश की भाजपा सरकार में आदिवासियों के ऊपर हमले और आपराधिक घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। सिवनी के सिमरिया गांव में हुई दो आदिवासियों की नृशंश हत्या के बाद अब मण्डला जिले के मोहगांव ब्लॉक के पातादेइ गांव में एक आदिवासी परिवार के तीन लोगों की नृशंश हत्या कर दी गई है। मृतकों में एक 12 वर्ष की मासूम बच्ची भी शामिल है। घटना इतनी जघन्य है कि देखने से ही रूह कांप रही है। जिले की बिछिया विधानसभा के विधायक नारायण सिंह पट्टा एवं निवास विधायक डॉ अशोक मर्सकोले घटना की जानकारी लगते ही घटनास्थल पर पहुंचे और पीड़ित परिवार सहानुभूति दी वहीं पुलिस बल के साथ मामले के हर पहलू को लेकर विधायकों द्वारा बात की गई। जल्द से जल्द घटना का खुलासा कर हत्यारों को गिरफ्तार करते हुए पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने की मांग की गई है। कांग्रेस विधायकों कहना है कि भाजपा राज में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है, सरेआम नागरिकों की नृशंश हत्याएं की जा रही हैं, आदिवासियों को लगातार निशाना बनाया जा रहा है। बिगड़ती कानून व्यवस्था से अपराधियों के हौसले बुलंद हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री व गृहमंत्री को नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए।