भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, समय से पहले दस्तक दे सकता है मॉनसून

भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, समय से पहले दस्तक दे सकता है मॉनसून

नई दिल्ली, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह पर जल्दी पहुंचने के बाद दक्षिण पश्चिम मॉनसून केरल की ओर बढ़ रहा है और मौसम विभाग ने अगले सप्ताह के मध्य तक प्रदेश में इसके दस्तक देने की संभावना जताई है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने बृहस्पतिवार की शाम को बताया, ‘‘सप्ताह के अंत तक केरल में दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के आगे बढ़ने के लिए स्थितियां अनुकूल बनी रहेंगी।''

...तो हाल के वर्षों में ऐसा पहली बार होगा
यदि इस सप्ताह के अंत तक केरल में दक्षिण पश्चिम मॉनसून की शुरुआत होती है, तो हाल के वर्षों में ऐसा पहली बार होगा। इससे पहले मानसून 2009 में 23 मई को केरल पहुंचा था। इससे पहले, मौसम विभाग ने पांच दिन पहले 27 मई तक केरल में मॉनसून के शुरूआत की भविष्यवाणी की थी। आम तौर पर केरल में एक जून को मॉनसून पहुंचता है।

बाड़मेर में सर्वाधिक अधिकतम तापमान 
विभाग ने कहा कि सप्ताह के कई दिन केरल तथा तटीय और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में भी भारी बारिश होने का अनुमान है। कुछ राहत के बाद, बृहस्पतिवार को पूरे पश्चिमोत्तर भारत में तापमान बढ़ गया है और बाड़मेर में 47.1 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया, जो देश में सर्वाधिक अधिकतम तापमान है। 

राजधानी में भीषण गर्मी का दौर जारी
मौसम विभाग के मुताबिक दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों में मॉनसून समय से पहले दस्तक दे सकता है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने यह जानकारी दी। इस बीच, राष्ट्रीय राजधानी में भीषण गर्मी का दौर जारी है।
दिल्ली में बृहस्पतिवार को अधिकतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री अधिक 43.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 27.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।